घर बैठे बढ़ाये पाचन शक्ति

कुछ भी खाने और खानपान की गड़बड़ी का सबसे बुरा असर आंतों पर पड़ता है। खाने की गलत आदतें जैसे एक बार में बहुत अधिक या बहुत कम खाना, जल्दी-जल्दी खाना, खाने के लिए पर्याप्त समय ना निकाल पाना आदि ये सभी आपकी पाचन तंत्र को हानि पहुंचाते है। तनाव, स्मोकिंग, लाइफस्टाइल का नकारात्मक असर हमारी सेहत पर पड़ता है, जिसमें सबसे जल्दी प्रभावित होता है हमारा पाचन स्वास्थ्य। पाचन से जुड़ी समस्याओं को हमें कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योंकि आगे चलकर आपको कई अन्य बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। कुछ जड़ी-बूटियों और प्राकृतिक अवयवों के सेवन से पाचन संबंधित समस्याओं को आप दूर कर सकते हैं।

how to speed up digestion

त्रिफला (Triphala)
तीन जड़ी-बूटियों का एक प्रभावी आयुर्वेदिक मिश्रण- आंवला, हरीतकी, बिभीतकी। त्रिफला को स्वास्थ्य लाभ के लिए जाना जाता है। यह पाचन तंत्र में गैस के संचय को रोकता है और साथ ही अपच को ठीक करने में भी मदद करता है।

सौंफ के बीज (Saunf Ke Beej)
इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से लोग खाना खाने के बाद माउथ फ्रेशनर के रूप में करते हैं। सौंफ के बीज में कई पाचन तंत्र के अनुकूल औषधीय गुण होते हैं। इसमें एंटीस्पास्मोडिक गुण होते हैं, जो आंत की मांसपेशियों को आराम देने में मदद करती हैं।

अदरक (Ginger)
अपच की समस्या के लिए यह घरेलू उपचार है। अदरक पाचन में सुधार करने वाले गैस्ट्रिक एसिड और पाचन एंजाइम्स को सपोर्ट करता है।

काली मिर्च (Black Pepper)
काली मिर्च एक आम मसाला है। इसमें पाइपरिन नामक यौगिक होता है जो पोषक तत्वों के अवशोषण में सुधार करता है। काली मिर्च पित्त अम्लों के स्राव में सुधार करती है। यह गैस की समस्या से भी छुटकारा दिलाती है, जिससे पेट फूलना, जलन आदि जैसी समस्या से दूर रखता हैं।

गर्म पानी पिएं
भोजन पचाने में परेशानी हो रही हो तो गर्म पानी पिएं । सुबह गर्म पानी पीने और भोजन से पहले कम से कम तीस मिनट पहले पानी पीने से पाचन तंत्र साफ रहता है।

नींबू पानी पिएं
अगर आपको सुबह गर्म पानी पीना पसंद नहीं है, तो एक गिलास में नींबू का रस निचोड़ कर उसे पिएं। इस से आपके पेट में बन रहा एसिड कम हो जायेगा और आपका पेट भी साफ रहेगा।

फाइबर से दोस्ती करे
चेरी, अंगूर, घंटी मिर्च, साबुत अनाज और बादाम जैसे फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को अपने खाने में शामिल करे। इन खाद्य पदार्थों को आपने भोजन में शामिल करने से आपका पाचन अच्छा रहेगा।

तनाव कम करें
लगातार पाचन समस्याओं का कारण तनाव हो सकता है। तनाव आपके पाचन तंत्र पर बहुत बुरा असर डालता है। इसलिए, आलोम विलोम और मेडटैशन जैसे व्यायाम का अभ्यास करके अपने तनाव को नियंत्रित करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *